कलेक्ट्रेट

जिला राज्य का एक प्रशासनिक विभाजन है। कलेक्टर जिला में शासन का मुख्य प्रतिनिधि है। कलेक्टर के पास व्यापक शक्तियां और कई प्रकार की जिम्मेदारियां होती हैं। कई मायनों में वह कानून और व्यवस्था का मुख्य संरक्षक है, जिस धुरी पर स्थानीय प्रशासन का कार्य चलता है। कलेक्टर को अतिरिक्त कलेक्टर, संयुक्त कलेक्टर और डिप्टी कलेक्टर द्वारा सहायता दी जाती है। कलेक्टर कार्यालय के कार्य विभिन्न शाखाओं के माध्यम से संचालित होते है। प्रत्येक शाखा में एक या दो कर्मचारी नियुक्त किए जाते हैं जो कार्यालय अधीक्षक / सहायक कार्यालय अधीक्षक की देखरेख में काम करते हैं। कार्यालय पुराने और नई कम्पोजिट बिल्डिंग में स्थित हैं।

कार्यालय, कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी के शाखाओं की सूची
सरल क्रमांक शाखा का नाम अधिकारी का पदनाम
1 कार्यालय, कलेक्टर कलेक्टर
2 कार्यालय, अपर कलेक्टर अपर कलेक्टर
3 कार्यालय, संयुक्त कलेक्टर संयुक्त कलेक्टर
4 भू-अभिलेख शाखा प्रभारी अधिकारी
5 परिवर्तित शाखा प्रभारी अधिकारी
6 नजूल जाँच शाखा प्रभारी अधिकारी
7 निर्वाचन शाखा प्रभारी अधिकारी
8 राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केंद्र जिला सूचना-विज्ञान अधिकारी
9 जिला ई-गवर्नेंस सोसाइटी जिला ई-प्रबंधक
10 स्थानीय निर्वाचन शाखा प्रभारी अधिकारी
11 अल्प बचत शाखा जिला अल्प बचत अधिकारी
12 नाज़ीर शाखा प्रभारी अधिकारी
13 राजस्व लेखापाल शाखा प्रभारी अधिकारी
14 राहत शाखा प्रभारी अधिकारी
15 वित्त शाखा प्रभारी अधिकारी
16 भू-अर्जन शाखा प्रभारी अधिकारी
17 अभियोजन शाखा प्रभारी अधिकारी
18 राजस्व अभिलेख कोष्ठ शाखा प्रभारी अधिकारी
19 सूचना का अधिकार शाखा प्रभारी अधिकारी
20 जनगणना शाखा प्रभारी अधिकारी
21 ज्येष्ठ लिपिक-1 शाखा प्रभारी अधिकारी
22 विकास शाखा प्रभारी अधिकारी
23 लायसेंस शाखा प्रभारी अधिकारी
24 जनदर्शन शाखा प्रभारी अधिकारी
25 कार्यालय अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी
26 कार्यालय जिला दण्डाधिकारी जिला दण्डाधिकारी
27 कार्यालय, रीडर टू कलेक्टर रीडर
28 रीडर टू अपर कलेक्टर रीडर
29 राजस्व मोहर्रिर शाखा प्रभारी अधिकारी